×
A-  A A+

बल (भौतिकी)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से


बल अनेक प्रकार के होते हैं जैसे- गुरुत्वीय बल, विद्युत बल, चुम्बकीय बल, पेशीय बल (धकेलना/खींचना) आदि।

भौतिकी में, बल एक सदिश राशि है जिससे किसी पिण्ड का वेग बदल सकता है। न्यूटन के गति के द्वितीय नियम के अनुसार, बल संवेग परिवर्तन की दर के अनुपाती है।

बल से त्रिविम पिण्ड का विरूपण या घूर्णन भी हो सकता है, या दाब में बदलाव हो सकता है। जब बल से कोणीय वेग में बदलाव होता है, उसे बल आघूर्ण कहा जाता है।

प्राचीन काल से लोग बल का अध्ययन कर रहे हैं। आर्किमिडीज़ और अरस्तू की कुछ धारणाएँ थीं जो न्यूटन ने सत्रहवी सदी में ग़लत साबित की। बीसवी सदी में अल्बर्ट आइंस्टीन ने उनके सापेक्षता सिद्धांत द्वारा बल की आधुनिक अवधारणा दी।

प्रकृति में चार मूल बल ज्ञात हैं: गुरुत्वाकर्षण बलविद्युत चुम्बकीय बलप्रबल नाभकीय बल और दुर्बल नाभकीय बल

 

To play the simulation, Click here. 
 

Topics

  • Force
  • Motion
  • Friction
  • Speed
  • Newton's First Law

Description

Explore the forces at work when pulling against a cart, and pushing a refrigerator, crate, or person. Create an applied force and see how it makes objects move. Change friction and see how it affects the motion of objects.

Sample Learning Goals

  • Identify when forces are balanced vs unbalanced.
  • Determine the sum of forces (net force) on an object with more than one force on it.
  • Predict the motion of an object with zero net force.
  • Predict the direction of motion given a combination of forces


To Play Click Below :-


×