×
A-  A A+

संवाद 18; चींटो पुस्तकविषये संदेहः:

Add Transcript
×
सपनों के से दिन- गुरदयाल' यह कार्यक्रम पंजाबी साहित्य के महान लेखक गुरदयाल सिंह की आत्मकथा पर आधारित है। कार्यक्रम में गुरदयाल के जीवन, उनकी शिक्षा-दीक्षा, उनके संघर्ष, और एक कामगार श्रमिक से एक लेखक बन ने तक के उनके सफ़र को इस कार्यक्रम के माध्यम से प्रस्तुत किया गया है।
More Info
License:[Source CIET, NCERT ]June 13, 2017, 5:37 p.m.
Download

New comment(s) added. Please refresh to see.
Refresh ×
Comment
×

×